Change Language : English
होम CHHATTISGARH STATE SKILL DEVELOPMENT AUTHORITY

दूरदर्शिता और लक्ष्य
  • राज्य की भौगोलिक, जनसांख्यिकी परिस्थितियों के अनुरूप उपलब्ध सभी संसाधनों का बेहतर उपयोग कर राज्य के सभी नागरिकों, विशेष रूप से युवाओं, महिलाओं तथा लाभवंचित वर्गों के लिए जीवन पर्यन्त कौशल प्राप्त करने/ कौशल उन्नयन करने हेतु अवसरों का आंकलन कर सृजन करना
  • राज्य तथा केन्द्र शासन के विभिन्न विभागों/सार्वजनिक प्रतिष्ठानों एवं प्रायवेट सेक्टर के सभी कौशल प्रदान करने वाले प्रतिष्ठानों/ संस्थानों/ संगठनों/ समूहों/ व्यक्तियों का राज्य के जनशक्ति के कौशल विकास हेतु सहयोग प्राप्त करना एवं इन सभी के मध्य प्रभावी समन्वय बनाना
  • बाजार की मांग के अनुरूप कुशल कार्यबल विकसित करना
  • राज्य के व्यक्तियों की रोजगारपरकता (आय/स्व-रोजगार) में वृद्धि करना तथा बदलती हुई प्रौद्योगिकियों एवं श्रम बाजार की मांगों के अनुरूप स्वयं को ढालने की योग्यता में वृद्धि करना तथा उनके बेहतर जीवन स्तर के लिये प्रयत्नशील रहना
  • राज्य की 80 फीसदी आबादी की आजीविका का आधार कृषि एवं वनोपज के क्षेत्र में कौशल विकास की आवश्यकताओं की पहचान करना तथा ग्रामीण क्षेत्र के व्यक्तियों के लिए उनके क्षेत्र विशेष में ही रोजगार एवं स्वरोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने के लिए उनके कौशल विकास/कौशल उन्नयन के लिए प्रयत्नशील रहना तथा जीविकोपार्जन हेतु उनका शहरों एवं अन्य राज्यों के लिये होने वाले मूव्हमेंट को रोकना
  • Gender एवं शहरी-ग्रामीण परिवेश, आर्गेनाइज्ड-अनाआर्गेनाइज्ड इंडस्ट्री एवं परम्परागत घरेलु व्यवसायों एवं कार्यक्षेत्र पर आधारित व्यवसायों से संबंधित कौशल विकास एवं उन्नयन हेतु विशेष ध्यान देना
  • कौशल विकास में निवेश आकर्षित करना तथा कौशल विकास से उत्पादकता में होने वाली वृद्धि हेतु निवेश आकर्षित करना
  • देश में कौशल विकास के लिये किये जा रहे बेहतर प्रयासों को राज्य में आवश्यकतानुरूप लागू करना
  • सूचना प्रौद्योगिकी का लाभ राज्य के नागरिकों के कौशल विकास के लिये उपलब्ध कराना
This site designed, developed and hosted by NIC State Centre Raipur